Khairagarh Assembly By Election: चुनावी मैदान में उतरा पहला प्रत्याशी, जानिए जिपं सभापति विप्लव किस पार्टी से लड़ेंगे उपचुनाव!

उपचुनाव प्रत्याशी विप्लव साहू
विप्लव साहू

सीजी क्रांति/सीमा ठाकुर

खैरागढ़। विधानसभा उपचुनाव को लेकर अब उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। उपचुनाव के लिए कभी भी आचार संहिता का बिगुल बज सकता है। प्रशासन से लेकर राजनीतिक दल और दावेदार भी तैयारियों में जुटे हुए है। फिलहाल राजनीतिक दलों ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

यह भी पढि़ए…खैरागढ़ विधानसभा: विप्लव उपचुनाव में ठोकेंगे ताल!

इधर जिला पंचायत सभापति विप्लव साहू ने उपचुनाव में उतरने के अपने इरादे पहले ही जाहिर कर दिए है। लेकिन किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे, यह जाहिर नहीं की थी। इसी बीच विप्लव से जुड़ा एक चुनावी पोस्टर सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

यह भी पढि़ए…विधानसभा उपचुनाव: टिकट का तिकड़म, कांग्रेसियों का धड़ों में बटकर प्रचार-प्रसार!

यह पोस्टर फॉरवर्ड डेमोक्रेटिक लेबर पार्टी का है। पोस्टर के बायीं ओर विप्लव साहू की फोटो है, वही फोटो के नीचे फारवर्ड डेमोक्रेटिक लेबर पार्टी का चुनावी निशान भी अंकित है और विप्लव के नाम साथ विधानसभा प्रत्याशी भी लिखा हुआ है। जबकि दायीं ओर सात चुनावी मुद्दे लिखे हुए है।

फॉरवर्ड डेमोक्रेटिक लेबर पार्टी का पोस्टर

यह भी पढि़ए…कांग्रेस में गुटबाजी पर बोले विधायक कुंवर सिंह- भूपेश है, तो भरोसा है!

जिससे साफ जाहिर हो रहा है कि विप्लव साहू आगामी विधानसभा उपचुनाव में एफडीएलपी पार्टी से ही मैदान में उतर सकते हैं। हालांकि उनके द्वारा कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

निर्दलीय नहीं लड़ेंगे चुनाव

सभापति विप्लव साहू विधानसभा का उपचुनाव निर्दलीय नहीं लड़ने की मंशा पहले ही जाहिर कर दिया था। भले ही पार्टी का नाम उजागर नहीं किया था, लेकिन किसी बैनर तले ही चुनाव लड़ने की मंशा जाहिर कर दी थी।

पोस्टर वायरल होने के बाद किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे, उस पर से अब पर्दा उठता दिख रहा है। क्योंकि उन्होंने क्षेत्र में प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है। वही पूरे विधानसभा क्षेत्र में उनकी टीम भी एक्टिव हो गई है।

पोस्टर में इन मुद्दों का जिक्र

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे पोस्टर में सात मुददे गिनाए गए है। जिसमें चुनाव और शिक्षा व्यवस्था में सुधार लाने के अलावा करियर काउंसलिंग, रोजगार, महिला वर्ग, किसान और पंचायत की भी बात की है। इन्हीं मुद्दों को लेकर उपचुनाव लड़ने की तैयारी चल रही है। वहीं लोगों को भी सात मुद्दे ही गिनाए जा रहे हैं।

आइए समझते हैं…मुद्दों के पीछे का भाव

चुनाव सुधार- चुनाव को कम खर्चीला और सरलीकरण के लिए काम किया जाएगा, जिससे युवा और आम आदमी चुनाव में लोकतांत्रिक ढंग से भाग ले सके।


शिक्षा व्यवस्था सुधार- सभी शैक्षणिक संस्थानों में शिक्षा की समुचित व्यवस्था की जाएगी।
कैरियर काउंसलिंग- उपलब्ध कराया जाएगा, जिससे युवाओं को रास्ता तय करने में सुविधा मिलेगी।

रोजगार- विधानसभा के शिक्षित युवा बेरोजगारों को रोजगार के अवसर अथवा बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।
महिला वर्ग- स्वयं सहायता समूह के उत्थान और सामान उत्पादन और मार्केटिंग की व्यवस्था की जाएगी।

किसान- किसान हित और चार में विधानसभा के प्रत्येक पंचायत में किसान भवन/क्लब स्थापित किया जाएगा।
पंचायत- प्रत्येक पंचायत में नई सहकारी समिति स्थापना से नव-विकास, सिंचाई, दवाई और पढ़ाई की व्यवस्था होगी।

Leave a Comment

ताजा खबर