32 लाख का गबन मामला: बीजेपी नेता घम्मन साहू ने मामला रफा-दफा करने मांगे 5 लाख !

बीजेपी नेता की आईजी से शिकायत

नीलेश यादव99073-02288

सीजी क्रांति/खैरागढ़. नगर के बहुचर्चित सरकारी शराब दुकान के 32 लाख रूपये की हेराफेरी में आरोपी करण बाल्मिक की आत्महत्या मामले में बीजेपी नेता व जिला पंचायत सभापति घम्मन साहू पर दलाली करने का सनसनीखेज आरोप लगा है. बता दें कि करण की पत्नि मोनिका बाल्मिक ने अपने पति की मौत के लिये खैरागढ़ थाने में पदस्थ कुछ पुलिसकर्मियों को जिम्मेदार ठहराते हुये बीजेपी नेता पर दलाली करने का आरोप लगाया था. करण की पत्नि मोनिका बाल्मिक ने पिछले महीने की 25 तारीख को अपने परिजनों के साथ एसपी कार्यालय राजनांदगांव पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई थी.


शिकायत के 10 दिन बाद भी आरोपी पुलिसकर्मियों पर किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं होते देख मोनिका बाल्मिक आज अपने परिजनों व कांग्रेस नेताओं के साथ आईजी दुर्ग और एसपी राजनांदगांव के कार्यालय पहुंचकर आरोपी पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की.


मामले को लेकर ब्लाक कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष व मीडिया प्रभारी जफर उल्लाह खान ने भी एसपी राजनांदगांव और पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) दुर्ग से आरोपी बीजेपी नेता व जिला पंचायत सभापति घम्मन साहू और पुलिसकर्मियों पर एफआईआर दर्ज करने और कड़ी कार्यवाही की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा है.

जिला पंचायत सदस्य घम्मन साहू का कहना है कि अखिलेश सोनी की शिकायत के बाद करण बाल्मिक ने पुलिस पूछताछ में पैसे ब्याज में लेने की बात कबूली थी. उस पैसे को जमा करने के लिये मृतक के परिवार वालों ने मुझे बुलाकर टीआई से एक-दो दिन का समय दिलाने का निवेदन किया था जिसके बाद मैंने टीआई से कुछ समय दिलाया था. मैं उनके पक्ष का ही वकील था. मैंने मामले के निपटारे के लिये मृतक के परिवार वालों पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं बनाया है. सारे आरोप निराधार और गलत है.

Leave a Comment

ताजा खबर