हिंदुत्व को लेकर ज्योति जंघेल के तेवर सख्त, गांव की बेटियों को दिखाया ‘द केरला स्टोरी’, बोलीं हिंदू बेटियों को बचाने समाज को आना होगा सामने

व सरपंच


सीजी क्रांति/खैरागढ़-छुईखदान-गंडई। भाजपा नेत्री व सरपंच ज्योति जंघेल ने गांव की बेटियों और महिलाओं को एलईडी स्क्रिन के जरिए द केरला स्टोरी फिल्म दिखाई। गांव में बच्चियों ने पूरी फिल्म को गंभीरता से देखा और हिंदू युवतियों के साथ सुनियोजित तरीके से होने वाले षडयंत्र को जाना और समझा।

ज्योति जंघेल ने कहा कि हिंदु युवतियों के साथ जिस सुनियोजित व षडयंत्रपूर्वक यह सब हो रहा है, वह रूह कंपा देने वाला है। हो सकता है कि फिल्म की कहानी का एक बड़ा हिस्सा काल्पनिक हो लेकिन फिल्म की सच्चाई को कतई नकारा नहीं जा सकता। अपनी धार्मिक पहचान छुपाकर हिंदु बेटियों को जिस तरीके से जाल में फंसाने का षडयंत्र चल रहा है, उसे खत्म करने के लिए हिंदू समाज को आगे आना होगा और अपने-अपने स्तर पर जागरूकता अभियान चलाना होगा।


श्रीमती जंघेल ने कहा फिल्म के अंत में पीड़ित बच्ची का अपने पैरेंटस से यह कहना कि उन्हें घर में किसी ने धर्म की शिक्षा ही नहीं दी। यह हिंदू धर्म की कड़वी सच्चाई है। हमें अपनी बच्चियों व धर्म को बचाने के लिए अपने आने वाली पीढ़ी को हिंदू धर्म की जानकारी देनी बहुत ही जरूरी है। हमें अपने धर्मग्रंथ और वेदों की ओर लौटना होगा। उन्हें पढ़ना, सुनना और समझना होगा।

महिला का जीवन सघर्षपूर्ण होता है, इसलिए स्कूल जीवन में पूरा ध्यान पढ़ाई में लगाएं
उन्होंने गांव की बेटियों को समझाईश दी कि महिलाओं का जीवन काफी संघर्षपूर्ण होता है। ऐसे में स्कूल-कॉलेज जीवन में पूरा ध्यान सिर्फ पढ़ाई में लगाए। ऐसी कोई भी गतिविधि जो आपके मन को शिक्षा के प्रति भटकाए या माता-पिता के सम्मान को आंच पहुंचाए, उससे तुरंत दूरी बनाएं। ज्योति जंघेल ने बच्चियों को इस बात के लिए भी अगाह किया कि हिंदु समाज के लोगों को व युवतियों को धर्मभ्रष्ट करने दूसरे धर्मावंलबी साजिश कर रहे हैं! पूरे देश में हिंदुत्व को बदनाम करने और खत्म करने की कोशिशें हो रही हैं! इन कोशिशें को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए हिंदू समाज को एकजुट होकर अपने धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए सामने आना होगा।

Leave a Comment

ताजा खबर