समाज पर टिप्पणी करने से नाराज हुए पूर्व जपं अध्यक्ष टिलेश्वर साहू, भाजपा नेताओं के साथ सरकारी शिक्षक ने भी दी धमकी, किया दुर्व्यवहार!

टिलेश्वर साहू


सीजी क्रांति न्यूज/खैरागढ़। हाल ही में एक वैवाहिकी कार्यक्रम में साहू समाज के जिलाध्यक्ष व पूर्व जनपद अध्यक्ष टिलेश्वर साहू को देख लेने की धमकी दी गई! इस घटना की जानकारी मिलने के बाद साहू समाज में नाराजगी फैलने लगी है। यह दुर्व्यवहार करने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता के साथ सरकारी शिक्षक भी शामिल है।

खैरागढ़ में भाजपा की हार को लेकर चल रही बातचीत देखते ही देखते विवाद में बदल गई। टिलेश्वर साहू वैवाहिकी कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। विवाह स्थल में भाजपा प्रत्याशी का काम न करने की बात पर टिलेश्वर साहू के सामने ही समाज के लोगों को इंगित करते हुए पार्टी के खिलाफ काम न करने की उलाहना देने लगे। दुर्व्यहार किया गया। बता दें कि इस मामले में एक शिक्षक भी शामिल हैं। जो विवाद में शामिल होकर साहू समाज के जिलाध्यक्ष पर अर्नगल आरोप लगाते हुए उंची आवाज में धमकाने के अंदाज में बात की।

इस पूरे मामले में टिलेश्वर साहू ने कहा कि मैं वैवाहिकी कार्यक्रम में शामिल होने गया था। तब शराब के नशे में पार्टी के कुछ नेताओं ने मुझ पर अर्नगल आरोप लगाए। जबरन विवाद की स्थिति पैदा की गई। मैं तो डोगरगढ़ विधानसभा से आता हूं। खैरागढ़ के चुनाव में मुझे कोई जिम्मेदारी नहीं नहीं मिली थी।

पार्टी ने जब-जब मुझे जो जिम्मेदारी दी मैंने ईमानदारी से काम किया है। इसके बाद भी उलाहना दी गई। मेरे से दुर्व्यवहार किया गया। मामला मारपीट तक पहुंचे उससे पहले ही मैं पार्टी की छवि और अपनी गरिमा को ध्यान में रखते हुए वहां से चला गया। मैंने इस मामले की शिकायत पुलिस में नहीं की है। राजनीतिक जीवन में इस तरह की छुटपूट घटनाएं होते रहती है।

इधर इस घटना की नाराजगी टिलेश्वर साहू ने समाजिक कार्यक्रम में इशारों में प्रकट की। उन्होंने कहा कि समाज के किसी व्यक्ति पर राजनीतिक दगाबाजी का झूठा आरोप लगाया तो समाज शांत नहीं बैठेगा।

Leave a Comment

ताजा खबर