सांसद के प्रयासों से स्वीकृत जल जीवन मिशन के कार्यो का झूठा श्रेय लेने का प्रयास कर रहे कतिपय कांग्रेसी – भागवत शरण

सीजी क्रांति/खैरागढ़। जनपद पंचायत सांसद प्रतिनिधि भागवत शरण सिंह ने कांग्रेसियों पर केंद्र की योजनाओं का झूठा श्रेय लेने का आरोप लगाया है। सिंह ने कहा कि आज़ादी के 75 सालों के इतिहास में पहली बार नरेंद्र मोदी सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद के सिद्धांत को प्रतिपादित किया है। और बहुत बड़ी ग्रामीण आबादी को केंद्र में रखकर योजनाएं बनाई हैं। कांग्रेसी सरकारों ने कभी भी आम आदमी की चिंता नहीं की। इसलिए ग्रामीण आबादी साफ पीने के पानी के लिए तक तरस रही थी। जिसे ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल जीवन मिशन का सूत्रपात किया। मिशन के तहत ग्रामीण घरों में नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके तहत राजनांदगांव जिले के सभी ब्लॉकों की तरह ख़ैरागढ़ विकासखंड के गांवों में करोड़ों का कार्य स्वीकृत हुआ है। बहुत से ग्राम पंचायतों में काम शुरू भी हो चुका है। परंतु दुर्भाग्य जनक है कि कतिपय कांग्रेसी नेता न केवल उक्त योजना का भूमिपूजन कर रहे हैं। बल्कि जल जीवन मिशन योजना को नल जल योजना बताकर गांव में वाह वाही बटोरने का काम कर रहे हैं। सिंह ने कहा कि जिले के अधिकाँश गांवों में कार्य सांसद संतोष पांडेय के प्रयासों से स्वीकृत हुए हैं। और जनता कांग्रेसी छल को जानती और समझती है। और जल जीवन मिशन के कार्यो का झूठा श्रेय लेने का कुत्सित प्रयास को समझती है। 

घर – घर में नल से जल 

भागवत शरण ने बताया कि योजना के तहत गांवों के प्रत्येक घर में नल से जल पहुंचाने है। मतलब जिन गांवों में कार्य स्वीकृत हुए हैं,वहाँ काम पूरा होने के बाद लोगों को पीने के पानी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। सार्वजनिक बोरिंग में लाइन नहीं लगाना होगा। बल्कि शहरों की तरह सीधे नल से जल घर पहुंचेगा।

सिंगल विलेज और रेट्रो फिटिंग के तहत मिली स्वीकृति

भागवत ने जारी बयान में कहा कि मिशन अंतर्गत सिंगल विलेज ,सोलर पंप योजना के तहत ख़ैरागढ़ ब्लॉक के डोंगरगढ़ विधानसभा के वनवासी क्षेत्र मलैदा से लेकर ख़ैरागढ़ विधानसभा के मैदानी ग्राम पांडुका तक में कुल 94 ग्राम पंचायतों में 6725.49 लाख के कार्य सांसद सँतोष पांडे के प्रयासों से स्वीकृत हुए है। वहीं  रेट्रो फिटिंग आधारित नल जल योजना अंतर्गत खैरागढ ब्लॉक के ख़ैरागढ़ विधानसभा के ग्राम धनगांव से लेकर डोंगरगढ़ विधानसभा के गर्रापार तक अलग अलग ग्राम पंचायतों को मिलाकर 1537.37 लाख रुपये के कार्य स्वीकृत हुए हैं।

लापरवाही से अटकी केंद्र की योजनाएं 

केंद्र सरकार की मोदी सरकार की ज्यादातर योजनाएं अंत्योदय के लक्ष्य पर आधारित हैं। जैसे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ राज्य सरकार की लापरवाही की वजह से लोगों नहीं मिल पा रहा है। और कामअटक गया है…

Leave a Comment

ताजा खबर