लाभांडी की बस्तियों को तोड़ने का फरमान…सीएम हाउस के सामने प्रदर्शनकारियों का बवाल, पुलिस भी संभाल नहीं पाई भीड़

सीएम कार्यालय के सामने प्रदर्शन करते लोग
सीएम कार्यालय के सामने प्रदर्शन करते लोग

सीजी क्रांति/रायपुर। राजधानी रायपुर में शनिवार को सीएम हाउस के सामने जमकर बवाल हुआ। सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी सीएम हाउस तक पहुंच गए। गेट के सामने नारेबाजी करने लगे। मौके पर पुलिस के जवान भी भीड़ को काबू नहीं कर पाए। प्रदर्शन कारी लगभग दो घंटे तक हंगामे के साथ हमारी मांगें पूरी करो के नारे लगा रहे थे। अतिरिक्त फोर्स पहुंची तब जाकर भीड़ को काबू किया जा सका।

दरअसल सीएम हाउस के सामने यह भीड़ लांभांडी के लोगों की है। सरकार ने लाभांडी की बस्तियों को तोड़ने का फरमान जारी किया है। सरकार इस बस्ती को तोड़कर यहां रहने वाले लोगों को दूसरी जगह व्यवस्थापित करना चाहती है। लांभांडी के लोग व्यवस्थापन का विरोध कर रहे हैं। इसी विरोध के कारण शनिवार का लाभांडी के उक्त बस्तियों में रहने वाले सैकड़ों लोगों ने सीएम हाउस पर धावा बोल दिया।

सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी सीएम हाउस की ओर पहुंचने लगे थे। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस ने बैरिकेडिंग कराई लेकिन प्रदर्शनकारियों के गुस्से के आगे पुलिस बेबस दिखी। प्रदर्शन कारी बेरिकेड्स को हटाकर सीएम हाउस की गेट तक पहुंच गए। इसके बाद जमकर नारेबाजी करने लगे। पुलिस के जवान एक को संभालते तो दूसरा आ जाता। इस प्रकार लगभग एक घंटे तक प्रदर्शनकारियों का बवाल चलता रहा।

आमतौर पर पुलिस सीएम हाउस की ओर पहुंचने वाले प्रदर्शन कारियों को 500 मीटर पहले की रोक लेती है लेकिन आज ऐसा नहीं हो पाया। प्रदर्शनकारी अचानक सीएक हाउस के सामने पहुंच गए थे। पुलिस को भी इसकी जानकारी देर से लगी इस लिए व्यवस्था नहीं बनी। अतिरिक्त फोर्स को मौके पर भेजा गया इसके बाद भीड़ को खदेड़ा गया।

लाभांडी इलाके में बसी बस्तियों में रहने वाले लोग उनके मकानों पर हो रही कार्रवाई को गलत ठहरा रहे हैं। इसके विरोध में बस्ती वाले सैकड़ों लोग पहले कलेक्टर दफ्तर पहुंचे थे। कलेक्टर दफ्तर में कोई भी जिम्मेदार अफसर नहीं मिला तो भीड़ का रुख सीएम हाउस की ओर हो गया। सीएम हाउस पहुंचने के बाद अफसर भी मौके पर पहुंच गए। अफसरों ने प्रदर्शनकारियों को आश्वस्थ किया है कि इसका हल निकालेंगे।

Leave a Comment

ताजा खबर