राजनांदगांव : धान खरीदी केन्द्र में अन्य राज्यों से अवैध धान नहीं आना चाहिए – कलेक्टर

धान खरीदी केन्द्र में अन्य राज्यों से अवैध धान
File Photo

सीजी क्रांति/राजनांदगांव। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य में धान खरीदी की तैयारी के संबंध में अधिकारियों व परिवहनकर्ता की बैठक ली।

कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि 1 दिसम्बर से धान खरीदी प्रारंभ होगी। जिले के 139 धान खरीदी केन्द्रों में तैयारी पूरी होनी चाहिए। धान खरीदी की तैयारी के लिए चेक लिस्ट तैयार किया गया है। उसके अनुसार सभी व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए। धान खरीदी केन्द्र में कांटा, बांट, समतलीकरण, बिजली, पानी, केप कव्हर तथा किसानों के लिए आवश्यक सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए तैयारी की जाए।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष अच्छी फसल होने के कारण अधिक मात्रा में धान आने की संभावना है। राजनांदगांव जिला महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश राज्य की सीमा से लगा हुआ है, सीमावर्ती क्षेत्रों में कड़ी निगरानी रखें। धान खरीदी केन्द्र में अन्य राज्यों से अवैध धान नहीं आना चाहिए। उन्होंने बार्डर के सभी चेक पोस्ट को सक्रिय करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चेक पोस्ट में 24 घंटे शिफ्ट में कर्मचारियों की ड्यूटी रहनी चाहिए।

कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि धान खरीदी केन्द्रों की व्यवस्थाओं के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी धान खरीदी केन्द्रों की व्यवस्थाओं का लगातार निरीक्षण करें। धान खरीदी के पहले प्रमुख किसानों की बैठक आयोजित की जाए और धान खरीदी तैयारी के संबंध में अवगत कराई जाए।

उन्होंने कहा कि धान खरीदी केन्द्र में धान खरीदी के लिए बारदाने की उपलब्धता कराई जाएगी। बारदाने की कमी होने पर किसान स्वयं के बारदाने में धान का विक्रय कर सकते हैं। किसानों द्वारा बारदाने की खरीदी पर शासन द्वारा किसानों को भुगतान किया जाएगा।

इस दौरान परिवहनकर्ताओं ने धान परिवहन के दौरान होनी वाली दिक्कतों के बारे में अवगत कराया। इस अवसर पर एसडीएम अरूण कुमार वर्मा, जिला खाद्य अधिकारी भूपेन्द्र मिश्रा, महाप्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकसुनील वर्मा, जिला विपणन अधिकारी सौरभ भारद्वाज, परिवहनकर्ता सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

ताजा खबर