भतीजे के साथ मिलकर पत्नी ने की हत्या, घटनास्थल पर टूटी चूड़ी और महिला के गाल में खरोच से खुली पोल


सीजी क्रांति/दुर्ग। खर्च के लिए पैसा नहीं मिलने और चरित्र पर शक किए जाने से नाराज महिला ने अपने भतीजे के साथ मिलकर पति का गला घोटकर उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने पुलिस के समक्ष अपना गुनाह स्वीकार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश कर उन्हें न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भिलाई नगर अतंर्गत स्टेशन मरोदा बीआरपी कॉलोनी निवासी उमा उमा साहू 42 वर्ष ने अपने पति संतोष साहू से काफी परेशान हो चुकी थी। वो उसे खर्च के लिए पैसे नहीं देता था। इतना ही नहीं चरित्र शंका को लेकर आये दिन उससे लड़ाई झगड़ा करता था। उसके सहने की क्षमता खत्म हो गई तब उसने अपने भतीजा लाकेश्वर साहू उर्फ लक्की (19 वर्ष) को ग्राम अण्डा से 27 मई को फोन करके बुलाया।

दोनों ने मिलकर संतोष साहू की हत्या करने की योजना बनाई। इसके बाद लक्की ने पहले संतोष को साठ बैठाकर शराब पिलाया। जब संतोष सो गया तो दोनों ने मिलकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के दौरान संतोष ने बचने का प्रयास किया, इसमें उमा साहू के गाल में खरोच का निशाना आया और उसकी चूड़िया टूट कर घटनास्थल पर ही गिर गई। जब पुलिस ने जांच शुरू किया तो घटनास्थल का मुआयना करने पर टूटी हुई चूड़िया मिली।

पुलिस ने शक के आधार पर मृतका की पत्नी उमा से पूछताछ शुरू की। उमा ने गोल-मोल जवाब दिया। पुलिस ने घटना की कड़ियों को जोड़ना शुरू किया। इसके बाद पूछताछ में पुलिस ने उमा की कारगुजारियों को बताकर उससे स्पष्टीकरण के लिहाज फिर से पूछताछ की, तो वह टूट गई और पुलिस के समक्ष अपना गुनाह कबूल लिया। उसके बाद पुलिस ने अंडा निवासी उसके भतीजे लक्की को भी गिरफ्तार किया।

Leave a Comment

ताजा खबर