पॉकेटमारों ने शराब दुकान के गॉर्ड के मुंह पर मारी बोतल

सीजी क्रांति/खैरागढ़. नगर के शराब दुकान में सिक्योरिटी गॉर्ड को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना महंगा पड़ गया. बता दें कि शनिवार की शाम करीब 4 बजे शराब दुकान में लगी मदिरप्रेमियों की भीड़ को सिक्योरिटी गॉर्ड पुनीत वर्मा पिता रतेश वर्मा कोविड-19 नियमो का पालन करा रहा था.

इसी बीच बरेठपारा निवासी सूरज रजक एवं महेन्द्र रजक देशी शराब दुकान मे शराब खरीदने आये. शराब खरीदने के बाद भी दोनों आरोपी वहीं डटे रहे. जिसके बाद गॉर्ड ने उन दोनों को वहां से हटने कहा तो दोनों आरोपी गॉर्ड के साथ गाली-गलौच करते हुये मारपीट करने लगे. इसी बीच महेंद्र रजक ने शराब की बोतल से सिक्योरिटी गॉर्ड पुनीत वर्मा के सर और मुँह में ताबड़तोड़ हमला शुरू कर दिया.

मौके पर शोर-शराबा होते देख शराब दुकान के गार्ड रमेश यादव, सेल्स मेन तामेश्वर धुर्वे तथा अन्य कर्मचारी बाहर आकर खून से लथपथ पुनीत वर्मा को किसी तरह दोनों आरोपियों से छुड़ाकर सरकारी हॉस्पिटल लेकर पहुंचे. जहाँ गंभीर रूप से घायल पुनीत के नाक के पास 6 और सर में 3 टांगे लगे है. शराब दुकान के मैनेजर दिलीप जंघेल की रिपोर्ट पर पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने 294, 323, 506, 34 का प्रकरण कायम किया गया है. वहीं दूसरे पक्ष ने भी सिक्योरिटी गॉर्ड के खिलाफ मारपीट का प्रकरण दर्ज करवाया है.

सिक्योरिटी गॉर्ड का ईलाज कराने पहुंचे शराब दुकान के कर्मचारियों ने बताया कि महेंद्र और सूरज दोनों आदतन पॉकेटमार है और पहले भी शराब दुकान में पॉकेट मारते पकड़े जा चुके है. उनके द्वारा आये दिन शराब दुकान पहुंचकर कर्मचारियों और दूसरे लोगों के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है. जिससे शराब दुकान के आसपास हमेशा अप्रिय घटना की आशंका बनी रहती है.

Leave a Comment

ताजा खबर