पद्मश्री कविता कृष्णमूर्ति…खैरागढ़ शहर का नाम सुनी थी, जो संगीत के लिए मशहूर है, लेकिन कभी आने का मौका नहीं मिला…अब सौभाग्य प्राप्त हुआ

राज्यपाल अनुसुइया उईके के हाथों डीलिट की उपाधि
राज्यपाल अनुसुइया उईके के हाथों डीलिट की उपाधि

सीजी क्रांति/खैरागढ़। बॉलीवुड की प्ले—बैक सिंगर पद्मश्री से सम्मानित कविता कृष्णमूर्ति सुब्रमणियम को इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय ने डीलिट की उपाधि से सम्मानित किया। दीक्षांत समारोह के अंत में मीडिया से मुखातिब होते उन्होंने खैरागढ़ आने को लेकर खुशी जाहिर की। कविता कृष्णमूर्ति ने कहा कि खैरागढ़ शहर का नाम सुनी थी, जो संगीत के लिए मशहूर है लेकिन कभी आने का मौका नहीं मिला।यहीं वजह रही कि बिजी शेड्यूल रहने के बाद भी इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय आने के बारे में सोच लिया था। खैरागढ़ शहर आकर मुझे बहुत प्यार मिला। उन्होंने डीलिट की उपाधि मिलने पर विवि का आभार भी जताया।

यह भी पढ़ें…छत्तीसगढ़ी म शपथ…छत्तीसगढ़ी भाषा में विधायक यशोदा वर्मा ने ली पद एवं गोपनीयता की शपथ, अध्यक्ष महंत ने दिलायी शपथ, सीएम भूपेश ने गुलदस्ता भेंटकर शुभकामनाएं दी

खैरागढ़ महोत्सव के शुभारंभ अवसर पर प्रस्तुति देती प्लेबैक सिंगर पद्मश्री से सम्मानित कविता कृष्णमूर्ति

इंदिरा कला संगीत विवि का कैम्पस देखकर पद्मश्री कविता कृष्णमूर्ति फूले नहीं समाई और कहा कि मैं भी अपने कर्नाटक में इस तरह का विवि स्थापित करना चाहती हूं। जहां संगीत सहित अन्य कलाओं की शिक्षा—दीक्षा दी जा सके। रियालिटी शो से जुड़े एक सवाल के जवाब में कहा कि शो छोड़ने के बाद बच्चों को मेहनत करना नहीं छोड़ना चाहिए। अगर मेहनत करते रहेंगे, तो सफलता निश्चित तौर पर मिलेगी। इसके अलावा रियालिटी शो में अगर बच्चें खुद का कंपोज किए हुए म्यूजिक पर अपना गाना गाये तो उनका टैलेंट ज्यादा उभरकर सामने आएगा।

Leave a Comment

ताजा खबर