नियमितिकरण की मांग : आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बड़े आंदोलन की तैयारी में…

नियमितिकरण की मांग
बैठक में उपस्थित आंगनबाड़ी कार्यकर्तागण

सीजी क्रांति/खैरागढ़. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा अपने नियमितिकरण की मांग लंबे समय से की जा रही है. अब तक इस मांग के पूरा न होने पर छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कल्याण संघ बड़े आंदोलन की तैयारी में है. इसी के तहत शनिवार को राजधानी रायपुर छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कल्याण संघ की प्रांतीय और जिला स्तर के पदाधिकारियों ने एक बैठक आहूत की.

बैठक में संघ की प्रांत अध्यक्ष पद्मावती साहू ने संघ के द्वारा किए गए प्रयासों के बारे में विस्तार से जानकारी दी. इसके अलावा उन्होंने गत 17 जून को महिला एवं बाल विकास विभाग के अफसरों के साथ संघों के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक और बातचीत का ब्यौरा भी प्रस्तुत किया.

इस मौके पर विशेष रुप से उपस्थित छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रदेश महामंत्री प्रकाश शुक्ला ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ना केवल आंगनबाड़ीकर्मियों के आंदोलन के प्रति समर्थन व्यक्त किया, बल्कि उन्होंने समाज, शासन और प्रशासन का महिलाओं के प्रति नजरिया को भी रेखांकित किया. उन्होंने कोविड-19 से संबंधित जोखिमों का जिक्र करते हुए आंदोलन की रणनीति तैयार करने का सुझाव दिया.

संघ के प्रांताध्यक्ष पद्मावती साहू ने राजनांदगांव की जिलाध्यक्ष लता तिवारी के द्वारा आंगनबाड़ीकर्मियों के हितों के लिए किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की. उन्होंने अन्य जिलों के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं से अपील की कि वह राजनांदगांव की जिलाध्यक्ष लता तिवारी के कार्यों से प्रेरणा लेते हुए अपने-अपने क्षेत्र में अपने मूल दायित्व के साथ सामाजिक सरोकार के कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले सकती हैं.

अध्यक्ष भुनेश्वरी तिवारी ने भी आंगनबाड़ी कर्मियों की व्यथा और संघर्षों का उल्लेख करते हुए आंदोलन की अपील की. कबीरधाम की जिला अध्यक्ष सोनबाई बंजारे ने कबीरधाम जिले में आंगनबाड़ीकर्मियों को दिए जाने वाले ड्रेस (साड़ी) ना मिलने तथा पुरानी साड़ी को पहनने के लिए अफसरों द्वारा दबाव डाले जाने का जिक्र किया. इस मौके पर राजनांदगांव की जिला अध्यक्ष लता तिवारी ने कहा कि इस आंदोलन में राजनांदगांव जिले का पूरा समर्थन रहेगा. उन्होंने कहा कि मौजूदा राज्य सरकार के मंत्रियों ने सत्ता में आने से पहले घोषणा पत्र तैयार करते समय हमें नियमितीकरण का वादा किया था, जब तक वह वादा पूरा नहीं होता है, तब तक हमें इस आंदोलन को पुरजोर तरीके से जारी रखना होगा. इसके लिए सड़क से लेकर सदन तक की लड़ाई जारी रहेगी.

इस बैठक में प्रान्त उपाध्यक्ष सुधा रात्रे, धमतरी जिला अध्यक्ष रेवती वत्सल, रोशनी शर्मा, मेम बाई, मिथिलेश तिवारी, प्रांतीय सहसचिव विभा श्रीवास्तव, प्रांतीय कोषाध्यक्ष हेमिन सोनी, महासमुंद जिला अध्यक्ष सुलेखा शर्मा सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे.

Leave a Comment

ताजा खबर