देवव्रत का उदयपुर पैलेस: ताला खुलने से पहले विभा सिंह के पत्र ने अटकाई चाबी

देवव्रत सिंह का उदयपुर पैलेस
File Photo

सीजी क्रांति/ खैरागढ़। दिवंगत राजा देवव्रत सिंह के उदयपुर पैलेस में जड़े गए सरकारी ताले को खोलने में अभी और समय लग सकता है। क्योंकि ताला खोलने के सरकारी नोटिस के जवाब में देवव्रत सिंह की दूसरी पत्नी विभा सिंह ने नया दांव खेला है। उन्होंने अपनी सगी बेटी की तबीयत ठीक नहीं होने का हवाला देते हुए ताला खुलने की तिथि 30 दिसंबर को मौके पर उपस्थित नहीं होने की सूचना दी है। साथ ही कलेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा के नाम पत्र लिखकर उदयपुर का ताला नहीं खोलने की मांग रखी है।

खास बात यह है कि विभा सिंह ने मंगलवार को राजनांदगांव में मीडिया से मुखातिब होते हुए चुनौती दी थी। उन्होंने कहा था कि एक दिन बाद महल का ताला खोला जाना है, लेकिन उन्हें बताया नहीं गया है। अब देखती हूं, प्रशासन कैसे ताला खोल सकते हैं।

पढ़ें – खैरागढ़ नगर पालिका अध्यक्ष के लिए खींचातानी तेज, कांग्रेस-भाजपा को सता रहा क्रॉस वोटिंग का डर

जानिए पत्र में क्या लिखा है

विभा सिंह ने कलेक्टर को लिखे में कहा है कि एसडीओपी दिनेश सिन्हा द्वारा 30 दिसंबर को उदयपुर पैलेस का ताला खुलने की जानकारी मिली है। मैं अपनी बेटी के मानसिक रूप से परेशान होने के कारण उसका इलाज कराने बाहर जा रही हूं, इस कारण मैं उपस्थित नहीं हो पाऊंगी। इसलिए उदयपुर पैलेस का ताला न खोला जाए। मैं देवव्रत सिंह की मृत्यु के बाद उनकी आधिकारिक तौर पर मालिकाना हर रखती हूं और मेरी गैर मौजूदगी में खोला जाना उचित नहीं होगा। मुझे कुछ दिनों का समय दिया जाए।

Leave a Comment

ताजा खबर