छह साल पहले कांग्रेस ने किए थे 36 वायदे, एक भी पूरे नहीं किए – राजू यदु

छह साल पहले कांग्रेस ने किए थे 36 वायदे
राजू यदु

00 चुनावी लाभ लेने पांच करोड़ के विकास कार्यों की स्वीकृति महज राजनीतिक झुनझुना

सीजी क्रांति/खैरागढ़। छह साल गुजर गए। पिछले नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस ने 36 वायदे किए थे, जिनमें एक भी पूरे नहीं हुए। अब आगामी नगर पालिका चुनाव को देखते हुए पांच करोड़ के कार्य स्वीकृत कर कांग्रेस वाहवाही बटोरने की कोशिश कर रही है। यह काम पहले स्वीकृत हो जाती तो अब तक टेंडर प्रक्रिया पूरी होकर काम भी शुरू हो जाता। जनता को समय पर राहत पहुंचाने के बजाय सरकार वोटबैंक की आधारशीला पर विकास के ख्वाब बुन रही है। सरकार जनहित नहीं वोटहित के लिए काम कर जनता की भावनाओं से खिलवाड़ कर रही है।

कांग्रेस को सत्ता सौंपने का खमियाजा भुगत रहे नगरवासी

उक्त आरोप लगाते हुए खैरागढ़ मंडल भाजपा के मीडिया प्रभारी राजू यदु ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नगर पालिका में कांग्रेस को सत्ता सौंपने का खमियाजा नगरवासी भुगत रहे हैं। विकास की दौड़ में खैरागढ़ 10 साल पीछे हो गया। भाजपा कार्यकाल में पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष विक्रांत सिंह ने जिस शिद्दत से शहर को संवारा था, कांग्रेस की लापरवाही से आज सब उजाड़ हो चुका है। हालात यह है कि विक्रांत सिंह के कार्यकाल में निर्मित भवनों की मरम्म्त व पोताई तक नहीं करा पा रही है कांग्रेस। शहर के समाजसेवियों के कार्यों के भरोसे नगर पालिका खुद की पीठ थपथपा रही है।


राजू यदु ने कहा कि 2015 में हुए नगरीय चुनाव में कांग्रेस ने जो संकल्प पत्र जारी किया था, उसमें पहला संकल्प जिला निर्माण के लिए सड़क पर उतरकर लड़ाई लड़ने की बात कही थी, आज वह लड़ाई शहर के समाजसेवी लड़ रहे हैं। युवाओं को रोजगार दिलाने धनेली, पिपारिया, ईतवारी बाजार, धरमपुरा, अमलीडीह में व्यावसायिक परिसर के लिए अब तक पत्थर तक नहीं रखा गया है। समृद्ध वाचनालय की योजना कोरी कल्पना साबित हुई। बॉयपास सड़क बन गया लेकिन अब तक पुल निर्माण पूरा नहीं हो पाया। गोल बाजार में साप्ताहिक सब्जी मंडी लगाने का संकल्प भी मूर्त रूप नहीं ले पाया। फतेह मैदान की दुर्दशा में न कोई सुधार आया और न ही खेल प्रतिभाओं को सम्मान देने की कोई समुचित व्यवस्था हो पाई। भाजपा कार्यकाल में शुरू हुए फतेह मैदान में प्रवेश द्वार का अधूरा कार्य अब तक पूर्ण नहीं हो पाया। विभिन्न भर्ती परीक्षाओं में बेरोजागारों के लिए आनलाईन फार्म करने निशुल्क इंटरनेट व कैफे की सुविधा भी केवल घोषणा तक ही सीमित रही।

कांग्रेस की सत्ता आते ही यूनिवर्सिटी में स्थानीय युवाओं को किया बेरोजगार

राजू यदु ने कहा कि कांग्रेस ने अपने संकल्प पर स्पष्ट कहा था कि इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय में स्थानीय कलाकारों को अवसर और बेरोजगारों को रोजगार दिलाने संघर्ष किया जाएगा जबकि कांग्रेस की सत्ता आते ही कुलपति बदला गया, इसके बाद बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों को विश्वविद्यालय प्रबंधन ने नौकरी से निकाल दिया। कांग्रेस के ​वरिष्ठ नेता खामोश रहे।

समाजसेवियों के कार्यों को दिखाकर वाहवाही बटोर रहा नगर पालिका

कांग्रेस ने शहर को साफ और सुंदर करने का वायदा किया था, वो झूठा साबित हो गया है। यही नहीं कोरोना काल में भी पालिका प्रशासन ने आम लोगों को राहत पहुंचाने का कोई ठोस कार्य नहीं किया। कोरोना की तबाही के बीच भोजन आंवटन व सेनेटाइजर खरीदी में भ्रष्टाचार को अंजाम ​दिया गया। चिकित्सा विभाग द्वारा मांगी आवश्यक सामग्री तक उपलब्ध नहीं कराया गया। शहर के समाजसेवी संस्थाओं ने शहर को साफ किया। शहर की सुंदरता के लिए अभियान चलाया। नदी व घाटों की सफाई की। आवारा व घायल मवेशियों को रखने व उनके उपचार की समुचित व्यवस्था की। सरकार की महत्वकांक्षी योजना के तहत खैरागढ़ में गौठान का निर्माण तक नहीं किया गया।

Watch Video – दिवंगत विधायक देवव्रत सिंह और बेटी “शताक्षी सिंह” के अनसुने किस्से…

Leave a Comment

ताजा खबर