खैरागढ़ : भाजपा का ‘अजय’ होगा अजेय या असंभावनाओं की सीमा लांघेंगी ‘नसीमा’ या फिर खत्री का भाग्य होगा ‘प्रबल’

भाजपा का अजय होगा अजेय या असंभावनाओं की सीमा लांघेंगी नसीमा या फिर खत्री का भाग्य होगा प्रबल

सीजी क्रांति/मनोज चेलक

खैरागढ़। शहर के सबसे शिक्षित एरिया में शुमार वार्ड नंबर 07 गोलबाजार की करीब 80 प्रतिशत आबादी व्यापारी वर्ग से ताल्लुक रखती है। यानि जो व्यापारी वर्ग को साध लिए तो उनकी जीत सुनिश्चत हो जाएगी। यही वजह रही है कि भाजपा ने व्यापारी वर्ग पर निशाना साधते हुए अजय जैन को चुनावी मैदान में उतारा है। वही कांग्रेस ने मुस्लिम वोटरों को साधने के लिए नसीमा मेमन पर दांव खेला है। नसीमा मेमन का परिवार के सदस्य भी खैरागढ़ के व्यापार जगत में बड़ा रसूख रखते हैं। जबकि राजनीति में अच्छा अनुभव और वार्ड में अपनी मजबूत पकड़ रखने वाले भंवरलाल उर्फ प्रबल खत्री निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनावी मैदान में उतरे हैं।

पढ़ें – परिसीमन ने बदला गंजीपारा का चुनावी समीकरण, लालपुर के कटने से भाजपा को फायदा !

खास बात यह है कि निर्दलीय प्रबल ने अपने लिए अच्छा माहौल बना लिया है। राजनीतिज्ञों की माने तो निर्दलीय खत्री भाजपा के अजय जैन के बाद दूसरे नंबर पर चल रहे हैं। जबकि कांग्रेस की नसीमा तीसरे नंबर पर चल रही है। हालांकि सत्ताधारी होने की वजह से बेनिफिट ऑफ डाउट में निर्दलीय खत्री के साथ संयुक्त रूप से दूसरे में जोड़ रहे है।…राजनीति में सब संभव है, अगर आखिरी दो दिन तगड़ी मैनेजमेंट हुई, तो क्रम उपर-नीचे भी हो सकता है। उसी आधार पर परिणाम भी तय होगा।

700 की आबादी में 81 फीसद वोटर

700 आबादी वाले वार्ड में वोटरों की तादाद 81 फीसद है। वार्ड में 568 वोट है, जिसमें 299 महिला और 269 पुरुष मतदाता शामिल है। यहां महिलाओं का वोट प्रतिशत पुरूष के मुकाबले ज्यादा है। यानि 52.64 फीसद महिला वोटर है। जो चुनाव में निर्णायक होंगे। चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबले के आसार बन रहे हैं। कांग्रेस-भाजपा के प्रत्याशियों को एक निर्दलीय उम्मीदद्वार चुनौती दे रहा है। खास बात यह है कि तीनों ही प्रत्याशी व्यापार जगत में अच्छा-खासा रसूख रखते हैं।

अजय को व्यापारी संगठन का मिलेगा फायदा

व्यापारी वर्ग की बाहुल्यता वाले गोल बाजार वार्ड में तकरीबन 80 फीसद वोटर व्यापारी वर्ग से है। वही तीनों प्रत्याशी व्यापारी वर्ग को ही प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। लेकिन भाजपा के अजय जैन को व्यापारी संगठन से फायदा मिलने की उम्मीद है। क्योंकि अजय व्यापारी संघ के सचिव भी रह चुके है और व्यापारियों की दिक्कत और उनके समाधान से अच्छी तरह से वाकिफ है।

पढ़ें – पिपरिया वार्ड नंबर 01 : कांग्रेस-भाजपा में सीधी टक्कर

खास बात यह है कि भाजपा में दिगर पार्टियों से अलग व्यापारी प्रकोष्ठ होता है। यहीं वजह है कि भाजपा प्रत्याशी को व्यापारियों से लाभ मिलने की उम्मीद है। वही आज की तिथि तक बढ़त बनाए हुए है।

निर्दलीय तय करेगा नसीमा का नसीब

गोल बाजार वार्ड में कांग्रेस की नसीमा को नुकसान पहुंच रहा है। यहां निर्दलीय प्रबल खत्री कांग्रेस का वोट काटते नजर आ रहे हैं। खत्री को असंतुष्ट मुस्लिम वोटरों का साथ मिलने की बात भी छनकर सामने आ रही है। अगर खत्री व्यापारियों (भाजपा को मिलने वाले) के बड़े वोट बैंक को तोड़ दे तो लीड भी कर सकते है। लेकिन कांग्रेस शत-प्रतिशत पारंपारिक वोट हासिल कर लेती है, इधर निर्दलीय प्रबल खत्री भाजपा वोट काटने में कामयाब रहते हैं तो सत्ता सरकार फायदा मिलते हुए नसीमा का नसीब भी जाग सकता है।

पढ़ें – खैरागढ़ पिपरिया वार्ड नंबर 2 : त्रिकोणीय मुकाबले के आसार

हालांकि ऐसा होता नहीं दिखा रहा है, क्योंकि कांग्रेस का ज्यादातर पारंपारिक वोट बैंक खत्री परिवार ही है। जिनके पास खत्री कुनबा मिलाकर 60 के आसपास वोटर है। यहीं वजह है कि प्रबल खत्री तीन प्रत्याशियों वाले वार्ड में सीधा मुकाबला देखने को मिल रहा है।

Leave a Comment

ताजा खबर