खैरागढ़: OSD जगदीश सोनकर ने मनरेगा और गौठान संबंधी कार्यों की समीक्षा की, बैठक में अनुपस्थित लगभग 2 दर्जन ग्राम पंचायत सचिवों को कारण बताओ नोटिस जारी

बैठक के दौरान OSD जगदीश सोनकर एवं अन्य अधिकारी
बैठक के दौरान OSD जगदीश सोनकर एवं अन्य अधिकारी

सीजी क्रांति/खैरागढ़। नवनिर्मित जिला खैरागढ़-छुईखदान-गंडई के ओएसडी डॉ. जगदीश कुमार ने 11 मई को ग्राम पंचायत सचिवों की बैठक ली। इस बैठक में उन्होंने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायतों में जारी विकास कार्यों की समीक्षा की। राजीव युवा मितान क्लब संबंधी खाता खोलने की प्रक्रिया और संख्या की जानकारी ली गई। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सामुदायिक सोख्ता गड्ढा एवं एसडब्ल्यूएम के प्रस्ताव के बारे में भी जानकारी ली गई। ओएसडी डॉ. जगदीश ने गोधन न्याय योजना, ओबीसी सर्वे प्रमाण पत्र, करारोपण एवं बजट संबंधी जानकारी तथा अन्य विभागीय कार्यों की समीक्षा की।

बैठक में ओएसडी ने ग्राम पंचायत सचिवों को निर्देश दिया कि वह मनरेगा संबंधी विकास कार्यों की निर्माण स्थल पर उपस्थित रहकर सतत निगरानी रखें व ग्रामीणों को अधिकाधिक रोजगार उपलब्ध कराने की दृष्टि से निर्माण कार्यों में तेजी लाएं। जिन पंचायतों में मनरेगा के कार्य शुरू नहीं हो पाए हैं अथवा कम कार्य जारी हैं, वहां निर्माण कार्यों में वृद्धि के साथ ही ग्रामीणों को ज्यादा रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। इस हेतु प्रति जॉब कार्ड और मानव दिवस के अनुसार लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है।

इसी प्रकार उन्होंने गोधन न्याय योजना के अंतर्गत प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सामुदायिक सोख्ता गड्ढा एवं एसएलडब्ल्यूएम के प्रस्ताव में विलंब ना करने के निर्देश दिए। ओबीसी सर्वे के प्रमाण पत्रों की समीक्षा की गई। इसके अलावा करारोपण एवं बजट की जानकारी भी पंचायत सचिवों से मांगी गई। विभागीय कार्यों की समीक्षा करते हुए ग्राम पंचायत सचिवों को निर्देश दिए गए कि शासकीय योजनाएं सुचारू रूप से संचालित हों, इसके लिए मैदानी स्तर पर सक्रिय होकर कार्य करें।

ओएसडी ने कार्य के प्रति अनियमितता एवं लापरवाही बरतने वाले ग्राम पंचायत सचिवों के प्रति नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने जनपद पंचायत खैरागढ़ की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तनुजा मांझी को निर्देश दिया कि ऐसे ग्राम पंचायत सचिवों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कार्यवाही हेतु नस्ती प्रस्तुत किया जाए।

गौठान निर्माण की समीक्षा करते हुए ओएसडी ने कहा कि गौठानों के निर्माण में तेजी लाई जाए तथा वहां पशुधन सुरक्षित रहें, इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। गायों के लिए पानी आदि की समुचित व्यवस्था के साथ साथ गौठानों में फूल उत्पादन, मशरूम उत्पादन आदि कम से कम 3 प्रकार के रोजगारमूलक कार्य तत्काल शुरू कराने के निर्देश दिए गए। नवनिर्मित गौठानाें में गायों को लाने तथा गौठानो में गाय रहें, इसके लिए जरूरी व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। गौठानों से उत्पादित सामग्री को राजनांदगांव स्थित सी-मार्ट भेजकर उनके विक्रय की व्यवस्था सुनिश्चित करने कहा गया, ताकि हितग्राहियों को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाया जा सके।

इस दौरान खैरागढ़ जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत अकर्जन, अमलीडीह कला, अछोली, बलदेवपुर, चिचोला, दपका, गुमानपुर, घोघेडबरी, करेला, खपरीतेली, नवागांव कंवर, पचपेड़ी, पीपलाकछार, रूसे, सहसपुर, सलिहा, सोनपुरी और तुलसीपुर के ग्राम पंचायत सचिवों को महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत जारी विकास कार्यों में समुचित प्रदर्शन नहीं किए जाने के कारण कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार बगैर सूचना दिए बैठक में अनुपस्थित रहने वाले ग्राम पंचायत सचिवों को भी नोटिस जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया है। उन्हें चेतावनी दी गई है कि आगामी बैठकों में समय पर पूरी जानकारी के साथ उपस्थित रहें तथा मैदानी स्तर पर सक्रिय रहकर कार्य करें।

Leave a Comment

ताजा खबर