खैरागढ़ विधानसभा के लिए भाजपा ने ढूंढा गुड लुकिंग, एजुकेटेड और बोल्ड उम्मीदवार! पार्टी के सर्वे में सामने आया ज्योति जंघेल का नाम, और जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर


सीजी क्रांति/केसीजी। खैरागढ़ विधानसभा में भाजपा उम्मीदवार के रूप में अब तक कोमल जंघेल और विक्रांत सिंह का नाम प्रमुखता से लिया जाता रहा है। जबकि महिला उम्मीदवार के रूप में लोधी समाज से लुकेश्वरी जंघेल का नाम बीते दो विधानसभा चुनाव में तेजी से उभरा। इन सबके बीच अब शिक्षित और सुलझी हुई भाजपा नेत्री ज्योति जंघेल का नाम तेजी से उभर रहा है। पार्टी के अंधरूनी सर्वे में ज्योति जंघेल को विधानसभा के लिहाज से बेहतर उम्म्मीदवार के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि उसे परखने और तराशने की प्रक्रिया जारी है।


ज्योति जंघेल छुईखदान के ग्राम पंचायत पंडरिया की वर्तमान सरपंच है। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की महामंत्री है। लोधी महिला समाज में प्रदेश अंकेक्षक के पद पर कार्यरत है। शिक्षा की बात करें तो ज्योति ने बीकॉम स्नातक तक पढ़ाई की है। करीब 11 साल तक रोजगार सहायक पद पर काम की है। इन सबके अलावा ज्योति जंघेल गुड लुकिंग, एजुकेटेड और बोल्ड व पैसों से संपन्न भी है। विधानसभा चुनाव के लिहाज से हर उस पैमाने में फिट बैठती हैं, जो राजनीति और चुनाव में जीतने के लिए आवश्यक माना जाता है।

दरअसल कांग्रेस से इस वक्त महिला विधायक यशोदा नीलांबर वर्मा है। वहीं कृषि उपज मंडी अध्यक्ष दशमत जंघेल को उनके विकल्प के रूप में एक वर्ग देख रहा है। लिहाजा भाजपा अपने तरकश में भी महिला नेत्री तैयार करने में जुटी हुई है। पार्टी के अंधरूनी सर्वे में ज्योति जंघेल का नाम तेजी से उभरा है। विधानसभा के भौगोलिक दृष्टि से भी देखें तो ज्योति जंघेल का निवास विधानसभा क्षेत्र के बीच में पड़ता है। इसके अलावा जाति बाहुल्यता के हिसाब से भी ज्योति जंघेल सर्वाधिक जनसंख्या वाले लोधी समाज से संबंध रखती है।

विभिन्न समीकरणों में फिट बैठने वाली ज्योति जंघेल क्षेत्र में सक्रिय भी हो चुकी है। कांग्रेस ने फिर से महिला उम्मीदवार उतारा और भाजपा में प्रमुख उम्मीदवारों के बीच दरार बढ़ी तो भाजपा की ओर से महिला उम्मीदवार के रूप में ज्योति जंघेल का नाम पार्टी सामने ला सकती है। हालांकि उनके अलावा लिमेश्वरी साहू भी पार्टी की उम्मीदवारी प्राप्त करने लंबे समय से सक्रिय है। वहीं किन्ही कारणों से यदि लुकेश्वरी जंघेल का निलंबन वापस ले लिया जाता है तो वे भी स्वाभाविक उम्मीदवार हो सकती है।

बता दें कि ज्योति जंघेल ने बीते वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से मिलकर विधानसभा के उपचुनाव में अपनी दावेदारी ठोंक चुकी है। भाजपा सूत्रों की मानें तो स्थानीय भाजपा संगठन ने ही ज्योति जंघेल का नाम आगे किया था। उन्हें स्थानीय संगठन का समर्थन भी हासिल है।

Leave a Comment

ताजा खबर