कलेक्टर ने ली बैंक अधिकारियों की बैठक, केसीसी ऋण समेत बीमा योजनाओं से जुड़ें प्रकरण जल्द निपटाएं

सीजी क्रांति/खैरागढ़। जिला सभाकक्ष में कलेक्टर गोपाल वर्मा की अध्यक्षता में जिला के सभी बैंकर्स की जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति की प्रथम समीक्षा बैठक आयोजित की गई। एजेंडा के अनुसार समस्त बैंको द्वारा विगत वित्तीय वर्ष में किये गए कार्यों की समीक्षा की लेकर आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान रिजर्व बैंक रायपुर से एल.डी ओ. श्री दिग्विजय राउत उपस्थित हुए।
केसीजी कलेक्टर ने बैंकर्स बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि पात्र आवेदकों के ऋण शीघ्र स्वीकार करें और कोई प्रकरण अनावश्यक न लौटाएं। अधिक से अधिक लोगों को बैंक द्वारा लाभान्वित किया जाए। उन्होंने कहा कि जिले में योजनाओं के तहत प्रगति दिखे और हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति मिले। सभी बैंकर्स यह सुनिश्चित करें कि सभी योजनाओं के निर्धारित लक्ष्य में शत-प्रतिशत क्रियान्वयन हो।

गोपाल वर्मा ने कहा कि बैंकर्स नवगठित जिला को अग्रणी जिला बनाने हेतु अपनी भूमिका निभायें। विभिन्न योजनाओं के तहत मिले लक्ष्य को पूर्ण करते हुए अपनी भूमिका का बेहतर निर्वहन करें। बैठक में उन्होंने जिले के अंतर्गत विभिन्न योजनाओं के तहत लक्ष्य और उपलब्धि की समीक्षा की। बैंक के इस वर्ष हेतु केसीसी, आधार सीडिंग, सुरक्षा बीमा योजना, फसल बीमा योजना, पशुपालन, मत्स्यपालन, उद्यानिकी आदि योजनाओं में शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति हेतु निर्देशित किया। कलेक्टर ने बैंकिंग विकास के आंकड़ा, वार्षिक साख योजना की उपलब्धि, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना सहित अन्य विभागीय योजनाओं की प्रगति की बैंकवार विस्तृत समीक्षा की।

कलेक्टर ने कहा कि बैंक एवं शासकीय विभाग आपस में समन्वय कर इन समस्याओं को दूर करें। जिससे अनावश्यक प्रकरण लंबित न रहे। शत प्रतिशत बैंकिंग उपभोक्ताओं के आधार सीडिंग और मोबाइल सीडिंग करने कहा गया। क्रियान्वयन एजेंसी विभाग और बैंक अधिकारियों को आपस में समन्वय बनाकर ऋण प्रकरणों की स्वीकृति में तेजी लाने के निर्देश दिए। बैठक में जिला प्रशासन की ओर से नोडल दिलीप कुर्रे, अग्रणी जिला प्रबंधक आशीष चिंचोलकर, एसबीआई के मुख्य प्रबंधक गजानन धकिते, राजकुमार सोलंकी सहित अन्य सम्बंधित विभाग के अधिकारी एवं समस्त बैंकों के शाखा प्रबंधक उपस्थित थे।

Leave a Comment

ताजा खबर