अरपा नदी में डूबने से 3 बहनों की मौत, रेत के अवैध खनन से नदी में बनी खाई, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

सीजी क्रांति न्यूज/बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में अरपा नदी अवैध रेत खनन ने आखिरकार तीन मासूमों की जान ले ली। एक ही घर की तीन बहने सोमवार को सुबह नहाने गई हुई थी। अचानक उनका पैर फिसला और वे नदी की गहराई में समा गई। इन मासूम बहनों की मौत के बाद लोग आक्रोशित हो गए और लासपुर-कोरबा नेशनल हाईवे में चक्काजाम कर दिया है। घटना कोनी थाना क्षेत्र की है।

हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने बिलासपुर कोरबा नेशनल हाईवे जाम कर दिया। लोगों ने कहा कि नदी में जगह-जगह अवैध खुदाई की गई है। बारिश के बाद नदी में पानी आ गया। इससे कहां कितनी गहराई इसका अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया। यही वजह है कि तीन बच्चियों की डूबने से मौत हो गई। लोगों ने खनिज विभाग के जिम्मेदारों को दोषी ठहराते हुए उन पर कार्रवाई की मांग की है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सेंदरी निवासी पूजा पटेल (18) अपनी छोटी बहन रितू पटेल (14) व चचेरी बहन धनेश्वरी पटेल (11) सोमवार की सुबह नहाने अरपा नदी गई थीं। तीनों बहनें सेंदरी रेत घाट के पास नहा रही थीं। तभी अचानक धनेश्वरी गहरे पानी में चली गई। जिसे बचाने के चक्कर में रितु और पूजा भी गहराई में समा गईं और तीनों की मौत हो गई।

इस हादसे की जानकारी आसपास के लोगों को हुई, तब उन्होंने अपने स्तर पर बच्चियों की तलाश शुरू की। इसके बाद घटना की जानकारी पुलिस के साथ ही एसडीआरएफकी टीम को दी गई। मौके पर पहुंची टीम ने तीनों बच्चियों के शव को बरामद कर लिया है।

Leave a Comment

ताजा खबर