अंबिकापुर अस्पताल में बच्चों की मौत का मामला : किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी- डॉ. डहरिया

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 7 बच्चों की मौत

सीजी क्रांति/रायपुर. नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा सरगुजा जिले के प्रभारी मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया ने अम्बिकापुर के मातृ एवं शिशु अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने भी अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारीयों तथा चिकित्सको से नवजात शिशुओं की मृत्यु के कारणों के  संबंध में विस्तार से जानकारी ली।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति न हो। उन्होंने कहा कि इस संबंध में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। मेडिकल कालेज के चिकित्सा अधीक्षक और शिशु रोग प्रभारी दोनो एक साथ अवकाश पर नही जाएंगे। अवकाश पर जाने से पहले ड्यूटी के लिए एवजी जरूर हो। चिकित्सको या प्रोफेसर की कमी है तो संविदा पर भर्ती कर ली जाए।

प्रभारी मंत्री ने अस्पताल में साफ – सफाई में कमी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए इस पर सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल परिसर में किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति को प्रवेश नही करने देने के लिए उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही सभी कर्मचारियों के लिए बायोमेट्रिक अटेंडेंस मशीन लगाने के भी निर्देश दिए।इस दौरान उन्होंने एसएनसीयू तथा शिशु वार्ड का निरीक्षण किया।

बता दें कि छत्तीसगढ़ में सरगुजा के अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल (Ambikapur Medical College Hospital) में बीते 3 दिनों में 7 बच्चों की मौत से हड़कंप मच गया है. इन सात बच्चों में 5 नवजात थे. हालत को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने अपना दिल्ली दौरा रद्द कर दिया था ।

Leave a Comment

ताजा खबर