माता—पिता ने दीपावली पर कपड़े लेने से किया इंकार, बेटी ने लगा ली फांसी !

वायर का फंदा बना अधेड़ फांसी

सीजी क्रांति/खैरागढ़। वनांचल क्षेत्र भावे की एक नाबालिग बालिका ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि परिजनों ने दीपावली पर कपड़े लेने से मना कर दिया था।

पुलिस से मिली जानकारी वनांचल क्षेत्र भावे की जगवंतीन पिता स्वर्गीय अर्जुन सिंह भलावी उम्र 17 वर्ष ने अपने माता—पिता को दीपावली के त्यौहार में कपड़ा खरीदने के लिए कहा। माता—पिता ने पर्याप्त मात्रा में फसल नहीं होने व पैसों की कमी की वजह से अपनी बेटी को कपड़ा लेने से मना ​कर दिया। जिससे नाराज होकर दीपावली के दिन लड़की अपने परिजनों को बिना बताये घर से निकल गई।

पढ़ें – CM भूपेश बघेल ने स्वर्गीय देवव्रत सिंह के परिजनों से भेंट कर शोक संवेदना प्रकट की

उस दिन से ही घरवाले लापता युवती की खोजबीन में जुटे थे। इसी दौरान युवती का भाई 10 नवंबर को जंगल की ओर जा रहा था, तभी पेड़ पर उसकी बहन फांसी के फंदे में झूलती दिखी। जिसके बाद लड़की के भाई ने गांव में आकर अपने परिजन और आसपास के लोगों को इसकी सूचना दी। बहरहाल गातापार पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच विवेचना में लिया है।

Leave a Comment

ताजा खबर