खैरागढ़ : ब्लेकमेलिंग से परेशान दया ने की रेशमा की हत्या

हत्या का आरोपी दयाराम साहू

सीजी क्रांति/खैरागढ़. नगर के लालपुर में रहने वाली 25 वर्षीय रेशमा की हत्या के आरोप में पुलिस ने खैरागढ़ के अकरजन निवासी दयाराम साहू को गिरफ्तार किया है। आरोपी अपने बयान में कहा कि रेश्मा उसे परेशान करती थी। हत्या के अलावा उसके पास कोई रास्ता नहीं था। आरोपी ने महिला की हत्या के बाद अपना मोबाईल मोती नरवा में फेंक दिया था, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है।


गौरतलब है कि तीन दिनों से लापता रेशमा पति विक्की जोशी की लाश तीन दिन बाद छुईखदान के विक्रमपुर-मुहडबरी रोड स्थित नाले पर बोरी में मिली थी। बदबू होने पर राहगीरों ने नाले में बोरी देखा, जिसके बाद संदेह होने पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बोरी बाहर निकालकर देखा, तो उसमें महिला की लाश मिली। जो एक-दो दिन पुरानी होने के कारण सड़ रही थी। खैरागढ़ थाना से जानकारी लेने के बाद महिला की पहचान रेशमा जोशी के रूप में की गई।


पुलिस के मुताबिक बीते 15 जून की शाम करीब चार बजे रेशमा अपने चार साल के बच्चे का घर में छोड़कर खैरागढ़ स्थित रश्मिदेवी सिंह कालेज के पीछे आईएचएसडीपी योजना तहत अलार्ट मकान में जाने की बात बताकर निकली थी। इसके बाद से रेशमा का फोन बंद हो गया था। दो दिन तक रिश्तेदार रेशमा को खोजने में लगे रहे। कही भी उसका पता नहीं चला। तब बीते गुरुवार को खैरागढ़ थाना में स्वजनों ने रेशमा के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। शुक्रवार सुबह उसकी लाश छुईखदान के विक्रमपुर-मुहडबरी नाले में बोरी में बंद मिली। पुलिस ने मोबाइल व अन्य बिंदुओं के आधार पर एक दिन में हत्या की गुत्थी सुलझा ली है।

Leave a Comment

ताजा खबर