छत्तीसगढ़ के मोहला में विधर्मियों ने जलाई देवी मां की प्रतिमा, संप्रदायिक तनाव बढ़ने के बाद पुलिस जांच में जुटी


सीजी क्रांति/मोहला। राजनांदगांव से अलग होकर नया जिला बने मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी के औंधी तहसील अंतर्गत ग्राम सरखेड़ा में देवी मां की प्रतिमा को मंदिर से उखाड़कर जला दिया गया। बताया जा रहा है कि गांव के कुछ लोगों ने शुक्रवार को बैठक रखी, जिसमें कहा गया कि मंदिर में देवी-देवताओं की पूजा नहीं करनी है! इसके बाद मंदिर से प्रतिमा को उखाड़कर उसे नदी तट में जला दिया गया। मामला औंधी थाना से महज 2 किमी दूर की है।

यह मामला सामने आने के बाद क्षेत्र में तनाव की स्थिति निर्मित हो गई। हिंदू अनुयायियों ने एसडीओपी कार्यालय पहुंचकर विरोध प्रकट किया व आरोपियों के खिलाफ जुर्म दर्ज करने की मांग की। सूत्रों के अनुसार पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर जांच में जुट गई है।

बता दें कि क्षेत्र में बड़े पैमाने पर धर्मांतरण का कार्य हो रहा है। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों में गरीब और परेशान लोगों को बेहतर जीवन की लालच दिखाकर उनका धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है। वहीं क्षेत्र में कुछ पंथ ऐसे भी है जो खुद की खूबियों को बताने की बजाय हिंदू धर्म की खामियों को बताकर लोगों का ब्रेन वॉश करने का अभियान छेड़े हुए हैं। यह सब सुनियोजित और स्वाभाविक तरीके से हो रहा है। अधिकांश लोगों को भनक तक नहीं लग रहा है।

Leave a Comment

ताजा खबर