खैरागढ़ पालिका चुनाव : आरक्षण ने बिगाड़ा दावेदारों का गणित…

खैरागढ़ नगर पालिका चुनाव

मनोज चेलक – 90988-34441

सीजी क्रांति/खैरागढ़। राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह के चुनावी तारीखों का ऐलान करते ही आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो चुकी है। इसके साथ ही निकाय चुनाव का बिगुल भी बज गया है। जहां मंगलवार 20 दिसंबर को मतदान होगा। वही 23 दिसंबर को मतगणना के बाद परिणाम जारी कर दिया जाएगा। शहर के 17094 मतदाताओं का एक-एक वोट कीमती है। जिसमें 8786 महिला और 8308 पुरुष मतदाता शामिल है। क्योंकि यह पहली दफा है, जब नगर पालिका अध्यक्ष का चुनाव निर्वाचित पार्षद करेंगे।

पार्षद दल मिलकर करेंगे अध्यक्ष का चुनाव

इससे पहले अध्यक्ष का चुनाव सीधे होता रहा है। लेकिन अब पार्षद दल मिलकर अध्यक्ष का चुनाव करेंगें। इसलिए पार्षदों के बहुमत पर अध्यक्ष चुनाव का दारोमदार होगा। यहीं वजह है कि तारीखों का ऐलान होते ही पार्षद चुनाव लडऩे की मंशा रखने वाले दावेदारों की धडक़ने तेज हो गई है। क्योंकि कुछ ऐसे वार्ड है, जहां आरक्षण की वजह से दावेदारों को दूसरे वार्डों की तरफ झाँकना पड़ रहा है। खास बात यह है कि नगर पालिका चुनाव के लिए हुए आरक्षण से दो सभापति सहित पांच पार्षदों की जमीन खिसकती नजर आ रही है। ये सभी दावेदार अपने वार्ड से चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। उन्हें चुनाव लडऩे के लिए दूसरों वार्डों में जमीन तलाशनी पड़ेगी। जिसमें मनराखन देवांगन, सुबोध पांडेय, गिरवर पटेल और शिव रजक के साथ कमलेश कोठले भी शामिल हैं।

आरक्षण ने बिगाड़ा दावेदारों का गणित

नगर पालिका चुनाव में आरक्षण के गणित ने बड़े-बड़े दावेदारों को गणित बिगाड़ कर रख दिया है। इसी कड़ी में वार्ड नंबर 7 अनारक्षित मुक्त होने से यहां भी दोवेदारों की लंबी फेहरिस्त तैयार होने की संभावना है। लिहाजा संभावित दावेदार निवर्तमान पार्षद नीलिमा गोस्वामी को कड़ी टक्कर मिल सकती है। वहीं वार्ड-8 तुरकारी पारा की सीट अनारक्षित महिला होने से सुबोध पांडेय दौड़ से पहले बाहर हो चुके हैं। यहीं वजह है कि यहां पुरूष दावेदारों की दाल नहीं गलने वाली है। इसी तरह वार्ड-17 दाऊचौरा अनारक्षित महिला होने की वजह से मनराखन देवांगन को कहीं और से दावेदारी पेश करनी होगी। इधर वार्ड-19 टिकरापारा अनारक्षित मुक्त होने के बाद भाजपा पार्षद रहे शेष नारायण यादव की मुश्किलें भी बढ़ गई है। यहां भाजपा के कई नेता पालिका चुनाव को लेकर पहले से ही सक्रिय हैं।

नामांकन जमा करने 7 दिन का समय

चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को नामांकन फार्म भरने के लिए महज सात दिनों का समय मिलेगा। जहां चुनाव के लिए 27 नवंबर से नामांकन शुरू हो जाएगा। यह प्रक्रिया 3 दिसंबर तक चलेगी। जबकि आवेदनों की स्कूटनी के लिए 4 दिसंबर निर्धारित किया गया है। इसी तरह प्रत्याशी 6 दिसंबर तक अपना नाम वापस ले सकते है। इसके बाद उसी दिन प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह भी आवंटित कर दिया जाएगा। वही 20 दिसंबर को सुबह 8 से 5 बजे तक वोट डाले जाएंगे। जबकि 23 दिसंबर को मतगणना बाद विजयी प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी।

शहर के 5 वार्ड संवेदनशील घोषित

निर्वाचन शाखा ने शहर के पांच वार्डो को संवेदनशील की श्रेणी में शामिल किया है। जिसमें वार्ड क्रमांक 4 राजफैमिली, तुरकारी पारा वार्ड क्रमांक 8, इतवारी बाजार वार्ड क्रमांक 9, शहीद निकेश यादव वार्ड क्रमांक 16 और दाउचौरा वार्ड क्रमांक 17 को संवेदनशील वार्डों में शामिल किया गया है।

वार्डो की जनता चुनेगी संभावित अध्यक्ष

आरक्षण ने नपा अध्यक्ष की कुर्सी संभालने वाले संभावितों को महज चार वार्डो तक सीमित कर दिया है, क्योंकि पालिका अध्यक्ष का पद पिछड़ा मुक्त है, इसलिए अध्यक्ष भी पिछड़ा बाहुल्य वार्डों से चुने जाएंगे। जातिगत समीकरणों को देखें तो अध्यक्ष टिकरापारा,अमलीपारा,पिपरिया,इतवारी बाजार जैसे वार्डों से सामने आ सकता है। वहीं उपाध्यक्ष पद को लेकर काफी जद्दोजहद होने की संभावना है। हालांकि इन वार्डो से दोनों पार्टियों के प्रत्याशी चुनाव जीतते है, तो बहुत तय करेगा कि अध्यक्ष की कुर्सी किसकी झोली में जाएगी।

Leave a Comment

ताजा खबर