सभापति विप्लव साहू ने अपने दो साल के काम को बताया बेमिसाल, जताया जनता का आभार

जिला पंचायत सदस्य विप्लव साहू
File Photo

सीजी क्रांति/खैरागढ़। जिला पंचायत सभापति विप्लव साहू ने अपने दो साल के काम को बेमिसाल बताया है। उन्होंने क्षेत्र क्रमांक 6 से जीत दर्ज कर जिला पंचायत सदस्य चुने गए। फिर उन्हें कृषि आधारित महत्वपूर्ण विभाग, सहकारिता और उद्योग समिति में सभापति की जिम्मेदारी मिली। जिसे उन्होंने हरहाल में निभाने की अपनी तरफ से भरपूर कोशिश करने की बात कही है। कांग्रेस-बीजेपी जैसे दलों को हराकर राजनीति में आने के बाद उन्होंने अपने कार्य से बताया कि निर्वाचित जनप्रतिनिधि बिना राजनीतिक दल के समर्थन के भी कार्य कर सकते हैं। जनता के बीच काम करने के लिए सिर्फ सही नजरिया, नीयत और उत्साह की जरूरत होती है।

इसे भी पढ़ें – कांग्रेसियों ने मनाई राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि

उन्होंने कहा कि जनता तो प्रेम करने के लिए तैयार रहती है। बस हमें संवेदनशील होकर उनके सरोकारों से रिश्ता रखना है। जबकि उन्होंने अपने निर्वाचन के दौरान नागरिक समाज से कोई वादा या झूठे वचन नहीं कहे थे, वरन उन्होंने कहा था कि विकास के लिए हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेंगे।

विप्लव ने बताया कि पंचायती राज के मनरेगा मजदूरी मूलक कार्यों में 1 करोड़ से अधिक की स्वीकृति दिलाने में मदद किए। इसके साथ विकास निधि, डीएमएफ, समग्र विकास आदि योजनाओं से 90 लाख से अधिक के कार्य स्वीकृति करवाएं और अपनी निधि से दे चुके हैं।

इसे भी पढ़ें – सहसपुर को अब मिलेगा शुद्ध पेयजल- विक्रांत

आने वाले वर्षों में अपने काम की प्राथमिकता बताते हुए विप्लव ने बताया कि लोगों में युवाओं, महिलाओं के लिए शिक्षा, करियर और रोजगार पैदा करना ही उन्होंने प्रमुख लक्ष्य रखा है। उन्होंने सम्मानित जनता को अपने निर्वाचन के विनम्र आभार व्यक्त किया कि उनमें प्रेम और भरोसे के कारण ही मजबूत और उत्साही बने हुए हैं।

आमनेर प्रधानपाठ नदी में पुल

मुढ़ीपार अंचल को गातापार जंगल वनांचल क्षेत्र को शॉर्टकट रास्ते को जोड़ने वाली बरसों पुरानी मांग को जल संसाधन विभाग की सहायता से एक करोड़ का रपटा-पुल निर्माण कराना, आवागमन-व्यापार और पर्यटन के दृष्टिकोण से अति महत्वपूर्ण रहा है। विप्लव साहू ने अपने पारंपरिक पसंद और इरादे के अनुरूप शिक्षा विभाग में खास निगरानी और दौरे जारी रखी और जिले के कई स्कूलों में काफी दौरे किए। व्यवस्था में लापरवाही दिखने पर शिक्षकों और अधिकारियों को ताकीद की, जिला पंचायत के सदन में बात रखी। वहीं अच्छे प्रदर्शन के लिए कुछ स्कूलों और मास्टरों का उत्साह बढ़ाया। पुस्तकालय और हायर सेकेंडरी स्कूल के साइकिल स्टैंड के लिए अपने निधि से स्वीकृति देने वाले पहले सदस्य बनें।

पर्यावरण के लिए 14 लाख स्वीकृत कराया

बदलते जलवायु की तरफ ध्यान देते हुए खैरागढ़ विकासखण्ड में वृक्षारोपण के लिए अपनी निधि से 2 लाख और मनरेगा 12 लाख रुपये का फंड स्वीकृत कराया, जो राज्य में अपनी तरह का विशिष्ट उदाहरण रहा है। जिसकी देखरेख उद्यानिकी विभाग कर रही है। अपने स्वयं खर्च और गर्वित फाउंडेशन रायपुर के निर्माण सहयोग से कोरोना आपातकाल वर्षों में विप्लव साहू ने 10 हजार से अधिक मास्क बांटे, और शासकीय अस्पतालों के सुविधा बढ़ाते हुए में ऑक्सीजन सिलेंडर की अनुशंसा की।

इसे भी पढ़ें – शीतला-राम मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए घम्मन ने की 3 लाख की घोषणा

Leave a Comment

ताजा खबर