विधायक विद्यारतन भसीन और पूर्व कैबिनेट मंत्री भानुप्रताप सिंह को श्रद्धांजलि के बाद मानसून सत्र बुधवार तक स्थगित

chhattisgarh Vidhansabha
file photo


सीजी क्रांति न्यूज/रायपुर।
छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन मंगलवार को सत्र के प्रारंभ में वैशाली नगर (भिलाई) विधानसभा से विधायक रहे स्वर्गीय विद्या रतन भसीन और अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय भानु प्रताप सिंह को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत सहित सदन के सदस्यों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद सदन की कार्यवाही बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी गई है। अब 19 जुलाई को 11 बजे फिर से सदन की कार्यवाही शुरू होगी। पहले दिन कार्य मंत्रणा समिति की बैठक हुई।

विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उप मुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव, नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत कार्य मंत्रणा समिति के सदस्य मौजूद रहे। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, अजय चंद्राकर, मोहन मरकाम, बृजमोहन अग्रवाल, डॉ कृष्ण मूर्ति बांधी ने दिवंगत विधायक विद्यारतन भसीन और पूर्व कैबिनेट मंत्री भानुप्रताप सिंह को श्रद्धांजलि दी।

सरल और सहज व्यक्तित्व के धनी थे विद्यारतन भसीन- भूपेश बघेल

पूर्व विधायक विद्या रतन भसीन को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि स्वर्गीय श्री भसीन सरल और सहज व्यक्तित्व के धनी थे उन्होंने दलगत भावना से ऊपर उठकर हमेशा आमजन के कल्याण के लिए कार्य किया। श्री भसीन का जनहित से गहरा सरोकार था। वे लगातार क्षेत्र की समस्याएं और प्रदेश के प्रमुख मुद्दे विधानसभा में उठाते थे। गंभीर बीमारी से ग्रसित होने के बावजूद भी वह बातचीत और व्यवहार में सहज-सरल थे, कठिन से कठिन समय में भी संयत रहा करते थे। श्री भसीन को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष श्री चरणदास महंत ने कहा कि श्री भसीन बेहद मिलनसार प्रवृत्ति के थे, उनका जाना हम सब के लिए अपूरणीय क्षति है।

राजा चक्रधर सिंह के छोटे भाई थे भानुप्रताप सिंह, कला संस्कृति को बढ़ाने और जनहित के कार्यों में उनका बड़ा योगदान रहा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायगढ़ राज परिवार के सदस्य और पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय भानुप्रताप सिंह के निधन पर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय भानुप्रताप सिंह स्वर्गीय राजा चक्रधर सिंह के छोटे भाई थे। स्वर्गीय श्री भानुप्रताप सिंह ने कला और संस्कृति को आगे बढ़ाया। जनहित के कार्यों एवं समाजिक क्षेत्रों में उनका योगदान सराहनीय रहा है। चक्रधर समारोह के अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने रायगढ़ में प्रदेश और देश भर के कलाकारों को अपनी कला प्रतिभा प्रदर्शित करने के लिए मंच प्रदान किया। राजनीति, खेल और कला के क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए वे जनहित से जुड़े मुद्दों के लिए भी तत्परता से कार्य करते रहे

Leave a Comment

ताजा खबर