नदियों में जा रही नाली की गंदगी को स्थाई तौर पर रोके जिला प्रशासन, अतिक्रमण से भी बचाए

सीजी क्रांति/खैरागढ़। टीएसी सदस्य व सांसद प्रतिनिधि भागवत शरण सिंह ने जिला प्रशासन से नदियों में जा रही कच्ची गंदी नालियों के पानी को स्थाई तौर पर रोकने की अपील की है। भागवत शरण सिंह ने अपील करते हुए कहा है कि प्रशासन की अदूरदर्शी नीतियों के कारण नगर की सभी प्रमुख नालियों को सीधे नदियों से जोड़ दिया गया है। जिसकी वजह से नदियां पूरी तरह से प्रदूषित हो चुकी हैं। नालियों के गंदे पानी की वजह से नदियों का पानी भी उपयोग के लायक नहीं रह गया है। भागवत ने कहा कि बिना नालियों के पानी के स्थाई इलाज़ को नदियों को प्रदुषण मुक्त नहीं किया जा सकता। 

अतिक्रमण की वजह से नदियों पर अस्तित्व संकट 
भागवत शरण सिंह ने कहा कि आमनेर,पिपरिया, मुस्का तीनों प्रमुख नदियों में अस्तित्व का संकट भी आ गया है। उसका सबसे प्रमुख कारण अतिक्रमण है। ख़ासकर दाउ चौरा,बस स्टैंड के पीछे सहित आमनेर और मुस्का में जमकर अतिक्रमण हुआ है। राजनीतिक रसूखदार अतिक्रमण कारियो ने नदियों के बड़े हिस्से तक में निर्माण कर लिया है।

जन मानस ने किया अथक श्रमदान
नदियों की निर्मलता से निर्मल त्रिवेणी महाअभियान के माध्यम से अथक श्रमदान कर वृहद सामूहिक प्रयास किया गया। जिसमें नदियों की सफाई से लेकर,नगर में वृहद स्तर पर प्लास्टिक संकलन, रंगरोगन के माध्यम से जन जागरूकता के सामूहिक प्रयास किए जा रहे हैं। 3 वर्षों तक अथक श्रमदान कर नदियों को बचाने का प्रयास किया गया।

Leave a Comment

ताजा खबर