छुईखदान में 12 साल के मासूम को 17 साल के किशोर ने गला घोंटकर मार डाला, राजश्री गुटखा बनी वजह, कैसे, यह जानने पढ़ें पूरी खबर


सीजी क्रांति न्यूज/छुईखदान। छुईखदान में 6 दिन पहले 12 साल के बच्चे की हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। महज राजश्री गुटखा की वजह से एक मासूम बच्चे को अपनी जान गंवानी पड़ी। 17 साल के किशोर ने उसे अपनी सायकिल में बैठाकर खेत का मेड़ काटने ले गया। वहा काम के दौरान बच्चे ने गुटखा खा लिया। इसके कुछ देर बाद वह बेहोश हो गया। किशोर ने उसे पानी छिड़ककर होश में लाया। बच्चे ने उल्टी करना शुरू कर दिया और फिर बेहोश हो गया। इससे किशोर युवक इस बात से घबरा गया कि बच्चे को कुछ हो गया तो वह फंस जाएगा और उसने मासूम का गला घोटकर मार दिया। मारने के बाद उसने बच्चे के शव को दूसरे खेत में फेंककर वापस आ गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

छुईखदान पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार 11 जुलाई को मृतक की मां ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि 7 वीं कक्षा में अध्ययरत उसक 12 साल का बच्चा 10 जुलाई की शाम करीब 4 बजे गांव के मैनहर शीतला मंदिर तरफ खेलने गया था। जो घर वापस नहीं लौटा है। इधर रिपोर्ट के दूसरे दिन यानी 12 जुलाई को ग्राम मैनजर खार में उसी बच्चे की लाश मिली।
वरिष्ठ अधिकारीयो के मार्गदर्शन में मामले की गंभीरता को देखते हुए घटना स्थल का खोजी डॉग से सर्च कराया गया। एफएसएल सीन ऑफ क्राइम टीम से घटना स्थल का निरीक्षण करा कर महत्वपूर्ण साक्ष्य एकत्रित किए गए। बालक का पोस्टमार्टम छुईखदान सरकारी हॉस्पिटल से कराया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोंटने के कारण दम घुटने से मृत्यु होने की बात सामने आई।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सुश्री अंकिता शर्मा ने थाना प्रभारी छुईखदान निरीक्षक जितेन्द्र बंजारे एवं जिला सायबर सेल प्रभारी सउनि टैलेश सिंह के नेतृत्व में टीम बनाकर जांच के निर्देश दिए।

जांच के दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिला की घटना दिनांक 10 जुलाई को को 12 वर्षीय बालक को गांव के ही नाबालिग बालक उम्र करीब 17 वर्ष के साथ उसके साइकल में बैठ कर खेत तरफ जाते देखा गया है। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने 17 वर्षीय किशोर को उनके परिजनों की उपस्थिति में घटना के संबंध में बारिकी से पूछताछ की। कुछ देर पुलिस को गुमराह करने के बाद किशोर युवक ने अपना गुनाह कुबूल लिया।

आरोपी ने बताया कि मृतक बालक 12 वर्ष को चॉकलेट देने के बहाने अपने खेत के मेढ़ को काटने के लिए अपने सायकिल में बैठाकर अपने खेत तरफ ले गया। अपने खेत के मेढ़ को काटा उसी दौरान बालक को राजश्री तम्बाखू जर्दा गुटखा खिलाया, जिससे मृतक चक्कर खा कर गिर गया। तब उसे पानी छिड़क कर उठाया। उसके बाद मृतक उल्टी करने लगा और फिर बेहोश हो गया इससे वह डर गया और पुलिस में फंसने के डर के कारण मृतक का गला दबा कर मार दिया। उसके बाद मृतक को खेत से खींचते हुए दूसरे खेत मे ले जाकर रख दिया। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त सायकिल और घसीटने में उपयोग कुदारी को गवाहों के समक्ष जप्त कर लिया है।

Leave a Comment

ताजा खबर