खैरागढ़ निकाय चुनाव: कड़ाके की ठंड में बढ़ी राजनीतिक सरगर्मी, प्रत्याशियों की धडक़ने तेज

खैरागढ़ निकाय चुनाव: कड़ाके की ठंड में बढ़ी राजनीतिक सरगर्मी

सीजी क्रांति/खैरागढ़। इलाके में कड़ाके ठंड पड़ रही है, लेकिन शहर में राजनीतिक सरगर्मी अपने चरम पर है। पार्षदी चुनाव परिणाम को लेकर कांग्रेस-भाजपा जीत-हार का कयास लगा रहे है। दोनों ही पार्टियां जीत के दावे कर रहे है, वही निर्दलीय भी चौकाने वाले परिणाम देने के लिए तैयार नजर आ रहे है। कड़ाके की ठंड में भी लोग देर रात तक जीत-हार को लेकर चर्चा कर रहे हैं। वही पसंदीदा प्रत्याशी की जीत का दावा कर रहे है।

पढ़ें – 9 बजे शुरू होगी गिनती, दोपहर तक परिणाम

इधर पार्षद पद के लिए मतदान खत्म हो गया है। अब परिणाम का इंतजार हो रहा है। मतपेटियों में कैद प्रत्याशियों किस्मत का पिटारा गुरुवार को खुलेगा। वही किसके सिर सजेगा जीत का सहरा और किसके किस्मत में होगी हार का दोपहर तक पता चल जाएगा। वही शहरी सरकार की तस्वीर भी साफ हो जाएगी। लेकिन परिणाम के बारे में सोचकर मतगणना के पहले ही प्रत्याशियों की धडक़ने तेज हो गई है। वे आने वाले परिणाम के बारे में सोचकर चिंतित नजर आ रहे है।

साफ नहीं हो पायी चुनावी तस्वीर

इस बार का निकाय राजनीतिज्ञों के सिर से ऊपर जा रहा है। यहां चुनावी गणित लगाने में माहिर लोग भी वार्डो की तस्वीर साफ नहीं कर पा रहे हैं। वही खुलकर जीत-हार का दावा भी नहीं कर पा रहे हैं। क्योंकि राजनीतिक पार्टियों ने अंतिम समय तगड़ा मैनेजमेंट दिखाया है। यहीं वजह है कि माहौल दोनों पक्षों की ओर बन गया है। लेकिन बाजी मारने वाली पार्टी का अब तक पता नहीं चल पाया है।

पढ़ें – 9 बजे शुरू होगी गिनती, दोपहर तक परिणाम

आगे निकलकर पिछड़ी भाजपा

नगर निकाय चुनाव के दौरान पल-पल चुनावी तस्वीर बदलती दिखी। जहां शुरुआती दौर में भाजपा ड्राइविंग सीट पर दिख रही थी। लेकिन सीएम भूपेश बघेल की सभा के बाद कांग्रेस ने टॉप गियर पकड़ा। सत्ता सरकार के दम पर मैनेजमेंट के सहारे चुनाव में भाजपा की बराबरी वाली माहौल पैदा कर दिया। वही वोटिंग के बाद कांग्रेस ड्राइविंग सीट पर नजर आ रही है। लेकिन खैरागढ़ की जनता हमेशा से ही चौंकाने वाली परिणाम देते आ रही है। ऐसे में एक फिर चौंकाने वाले परिणाम ही निकलकर सामने आने उम्मीद है ।

Leave a Comment

ताजा खबर