खैरागढ़ को जिले के अनुरूप संवारेगी नगर पालिका, बनेगा स्वीमिंग पुल, ढाई करोड़ की लाइब्रेरी, मरीन ड्राईव आर्ट गैलेरी, फतेह मैदान का भी होगा कायाकल्प

file photo


सीजी क्रांति/खैरागढ़। सोमवार को नगर पालिका परिषद में 29 लाख 4 हजार रूपए लाभ का बजट पेश किया गया। इस वर्ष 14 करोड़ 41 लाख बजट का प्रावधान रखा गया है, जबकि वर्ष यह बजट करीब 12 करोड़ रूपए का ही था। बजट में नगर विकास को लेकर जो खाका खींचा गया है, वह खैरागढ़ को जिले के अनुरूप संवारने में बड़ी भूमिका अदा करेगी। वहीं पालिका के राजस्व में भी बढ़ोत्तरी होगी। आने वाले समय में खैरागढ़वासियों को बड़े शहरों की तर्ज पर सुविधाएं मुहैया होंगी। हालांकि बजट में कुछ घोषणाएं ऐसे भी हैं जो पिछले बजट सत्रों में भी रखे गए, जो अब तक पूरे नहीं हो पाए हैं। पालिका ने बजट के रूप में शहरवासियों के सामने बड़ा ख्वाब तो रख दिया है लेकिन उसे पूरा करने में राज्य सरकार के मदद की दरकार होगी। हालांकि पालिका में इस बार राजस्व वसूली में कर्मचारियों ने कड़ी मेहनत की है।

पीएम आवास, चूंगी क्षति पूति और यूजर चार्ज से बढ़ी आय
सदन में सीएमओ सूरज सिदार ने बताया कि इस वर्ष बजट में वृद्धि होने के पीछे वजह यह है कि पालिका ने संपत्तिकर व अन्य करों की वसूली में कड़ी मेहनत की। इसके अलावा पीएम आवास योजना के तहत पक्के मकान बनने से संपत्तिकर की सीमा में बढ़ोत्तरी हुई। राज्य सरकार ने चूंगी क्षतिपूर्ति को 24 प्रतिशत से बढ़ाकर 35 प्रतिशत कर दिया है। डोर टू डोर कचरा कलेक्शन भी बीते वर्षों की अपेक्षा अच्छी हुई है। वसूली लक्ष्य 16 लाख होना था, जिसमें 7 लाख वसूली की गई। दुकानों की नीलामी में भी दो करोड़ से अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। पालिका सीमा क्षेत्र में 110 दुकानें निर्माणाधीन हैं वहीं 100 नए दुकान निर्माण के प्रस्ताव है। इनकी नीलामी से पालिका के कोष में इजाफा होगा। इन सबके अलावा पूंजीगत आय अंतर्गत शासन से राशि आवंटन होना है, वहीं नए प्रस्ताव शासन को भेजी गई है।

शहर विकास का खाका

  1. करीब 2 करोड़ का सिटी वॉचनालय, 100 नए दुकान बनेंगे, जबकि 110 दुकानें निर्माणाधीन है।
  2. नगर में दो जगहों पर चौपाटी बनेगी, शहरी इंडस्ट्रीयल पार्क बनेगा, 6 जगहों पर सामुदायिक पार्क बनेगा।
  3. शहर में एकमात्र अटल उद्यान की तर्ज एक और उद्यान बनेगा। फतेह मैदान के विकास में ढाई करोड़ खर्च होगा।
  4. नया खेल मैदान, नया बस स्टैंड, ऑडिटोरियम, स्वीमिंग पुल, नदी सफाई विथ मरीन रोड।
  5. शहर की 5 प्रमुख मार्गों में डिवाईडर।
  6. एसटीपी प्लांट, सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट।
  7. 6 वार्डों में सार्वजनिक शौचालय।

Leave a Comment

ताजा खबर