खैरागढ़ उपचुनाव: जनता कांग्रेस के चुनाव प्रभारी जनरैल सिंह ने प्रत्याशी बदलने की दी नसीहत, सोशल मीडिया में पोस्ट वायरल!

जनरैल-सिंह-भाटिया
जनरैल-सिंह-भाटिया

सीजी क्रांति/खैरागढ़। खैरागढ़ विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस द्वारा देवव्रत सिंह के बहनोई नरेन्द्र सोनी को अपना उम्मीदवार घोषित करने बाद पार्टी के अंदर ही विरोध के स्वर उठने लगे है। पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं उपचुनाव प्रभारी जनरैल सिंह भाटिया का सोशल मीडिया एक कथित पोस्ट वायरल हो रहा है। जिसमें पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से प्रत्याशी बदलने की बात कर रहे है। हालांकि पार्टी को ओर से कोई आधिकारिक सूचना नहीं आई है।

यह भी पढ़ें….खैरागढ़ उपचुनाव: कोमल से होगा कांग्रेस की यशोदा का दंगल, भाजपा ने पांचवी बार जताया कोमल पर भरोसा

यह भी पढ़ें….खैरागढ़ उपचुनाव: जोगी कांग्रेस से चुनावी मैदान में उतरेंगे देवव्रत सिंह के दामाद नरेंद्र सोनी

वायरल पोस्ट इस प्रकार है….खैरागढ़ विधानसभा के उप चुनाव के लिए आप ने मुझे चुनाव प्रभारी बनाया है, किन्तु आप के द्वारा चयनीत प्रत्याशी नरेन्द्र सोनी मेरी और हम सभी कार्यकर्ताओं की भावनाओं के विपरीत है, अगर हमारे पूर्व विधायक स्वर्गीय देवव्रत सिहं के परिवार में उनकी लड़की (अगर उनकी चुनाव लड़ने की उम्र होती) उनको या उनकी बहनों में से किसी एक को अपना प्रत्याशी बना सकते तो सही मायने में देवव्रत सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि होती।

यह भी पढ़ें….Big Breaking- खैरागढ़ उपचुनाव : कांग्रेस ने महिला प्रत्याशी यशोदा वर्मा पर खेला दांव, नामांकन फॉर्म भी ख़रीदा

बीती रात मेरे द्वारा जिस प्रकार बार बार आप से प्रत्याशी बदलने या बिना चुनाव में जाये दूसरे विकल्पों के लिये अनुरोध किया गया, लेकिन आप ने मेरी और उस क्षेत्र के बहुत सारे कार्यकर्ताओं के आग्रह को नजर अंदाज कर नरेन्द्र सोनी को ही, अपना प्रत्याशी घोषित किया, उससे मन में एक हताशा और खीज के साथ साथ अपमान का एहसास हुआ है।

आप के द्वारा मुझे खैरागढ़ विधानसभा के उप चुनाव हेतु पार्टी का चुनाव प्रभारी बनाया है, नरेन्द्र सोनी को प्रत्याशी बनाये जाने का विरोध करते हुए अपने आप को इस चुनाव के प्रभार से हटा रहा हू और चुनाव प्रभारी पद से अपने आप को पृथक करता हूं। (नोट-वायरल पोस्ट में किसी भी तरह की एडिटिंग नहीं की गई है। )

Leave a Comment

ताजा खबर