खबर का असर: जिले को जल्द मिलेगा व्यापम परीक्षा केन्द्र का दर्जा— कलेक्टर

सीजी क्रांति/खैरागढ़। आदिवासी छात्रावास अधीक्षक के 300 पदों के लिए फिलहाल खैरागढ़ में परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जाएंगे। लेकिन भविष्य में व्यापमं की पात्रता, भर्ती या प्रवेश परीक्षा के लिए अब खैरागढ़ में भी परीक्षा केंद्र स्थापित किया जाएगा। व्यापमं ने प्रदेश के सभी जिलों में परीक्षा केंद्र बनाया था लेकिन जिला केसीजी को छोड़ दिया था। सीजी क्रांति डॉट कॉम ने ‘‘खैरागढ़ जिला प्रशासन की बड़ी लापरवाही ! भुगतेंगे व्यापमं परीक्षार्थी, शीर्षक से प्रमुखता से खबर प्रकाशित किया था। जिसे संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर चंद्रकांत वर्मा ने दूसरे ही दिन छत्तीसगढ़ व्यापम के चेयरमेन मनोज कुमार पिंगुआ से चर्चा कर वस्तुस्थिति से अवगत कराया।

उन्होंने चर्चा के दौरान बताया है कि जिला प्रशासन की ओर से नियंत्रक छतीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल को सहमति पत्र 17 मई 2023 को भेजी जा चुकी है। जिसमें नोडल अधिकारी के रूप में डिप्टी कलेक्टर टंकेश्वर प्रसाद साहू एवं समन्वयक के लिए रानी रश्मि देवी महाविद्यालय प्राचार्य जितेन्द्र कुमार सांखरे का नाम छत्तीसगढ़ व्यापम द्वारा आयोजित प्रवेश, भर्ती एवं पात्रता परीक्षाओं के आयोजन हेतु नाम प्रस्तावित है।

बता दें कि सीजी क्रांति ने व्यापम परीक्षा केन्द्र को लेकर ‘‘खैरागढ़ जिला प्रशासन की बड़ी लापरवाही ! भुगतेंगे व्यापमं परीक्षार्थी, खैरागढ़.छुईखदान.गंडई को छोड़ पूरे 32 जिलों में होंगे परीक्षा केंद्र‘‘ शीर्षक से प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

व्यापम चेयरमेन श्री पिंगुआ ने कलेक्टर श्री वर्मा को आश्वासन देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षाओं के लिए किए जा रहे वर्तमान में चल रही आवेदन प्रक्रिया और भविष्य में आयोजित परीक्षाओं के लिए केसीजी को केंद्र के रूप विकल्प दिया जाएगा। इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन को आस्वस्थ किया है कि जल्द ही मंडल की परीक्षाओं के लिए जिले को केंद्र के रूप में विकल्प में रखा जाएगा। जिले में परीक्षा केंद्र खुल जाने से जिले परीक्षार्थियों को राहत मिल जाएगी। उन्हें दूसरे जिले में जाकर परीक्षा दिलाने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

Leave a Comment

ताजा खबर